What is affiliate marketing in hindi | Free में कैसे शुरू करे 2022 में ।

प्रिय पाठकों आज के इस लेख में  एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? ( what is affiliate marketing in hindi ), एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए?, एफिलिएट मार्केटिंग कोर्स कैसे करें? आदि के बारे पूरी जानकारी देने का प्रयास किया है

what is affiliate marketing in hindi आज की हाइपर-डिजिटलीकृत दुनिया में, यदि आप अपनी मासिक तनख्वाह को पूरा करने के लिए अपनी ऑनलाइन गतिविधि से एक निष्क्रिय आय ( passive income ) स्ट्रीम शुरू करने की इच्छा रखते हैं या बस आश्चर्य करते हैं कि आप अपने खुद के उत्पाद को विकसित करने की चिंता किए बिना ऑनलाइन पैसा कैसे कमा सकते हैं, तो आप अकेले नहीं हैं।

ऐसा करने के सबसे कुशल तरीकों में से एक व्यवसायों के साथ सहयोग करना है ताकि उन्हें व्यापक ग्राहक आधार तक पहुंचने में मदद मिल सके और इस प्रक्रिया में आय स्रोत शुरू हो सके। महत्वपूर्ण रूप से, यह सहयोग इस बात पर ध्यान दिए बिना है कि आपका अपना व्यवसाय है या नहीं।

what is affiliate marketing in hindi

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? ( what is affiliate marketing in hindi ) 

Contents show

Affiliate Marketing हर बार जब कोई ग्राहक आपकी सिफारिश के आधार पर कोई उत्पाद खरीदता है तो ऑनलाइन पैसा कमाने की प्रक्रिया है। यह एक ऑनलाइन बिक्री रणनीति है जो आपको – ‘Affiliate’ – को कमीशन अर्जित करने की अनुमति देती है और उत्पाद के मालिक को बिक्री बढ़ाने में मदद करती है। साथ ही, यह सहयोगियों के लिए अपने स्वयं के उत्पाद बनाए बिना उत्पाद की बिक्री पर पैसा कमाना संभव बनाता है।

सीधे शब्दों में कहें तो एफिलिएट मार्केटिंग में किसी उत्पाद या सेवा को ब्लॉग, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म या वेबसाइट पर साझा करके रेफर करना शामिल है। एक एफिलेटर हर बार एक कमीशन कमाता है जब कोई व्यक्ति उसके सिफारिश से जुड़े लिंक या कोड के माध्यम से खरीदारी करता है तो उसे उस प्रोडक्ट का कुछ कमीशन मिलता है।

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करती है? 

एक eCommerce कंपनी अपने Product की Sale को बढ़ाने के लिए या Promote करने के लिए Affiliate Program बनाती है। जब कोई व्यक्ति कंपनी के Affiliate Program को Join करता है तो कंपनी उस व्यक्ति को अपने Product को Promote करने के लिए एक Affiliate Link या Affiliate Banner उपलब्ध करवाती है।

इसके बाद उस व्यक्ति को कंपनी के दिए गये Affiliate लिंक या Affiliate Banner को Website या Blog के माध्यम से Promote करना होता है।अगर कोई व्यक्ति आपके Promote किये गये Affiliate Link या Affiliate Banner पर Click करके कंपनी का Product Purchase कर लेता है तो उसके बदले में कंपनी आपको Commission देती है। what is affiliate marketing in hindi

क्योंकि एफिलिएट मार्केटिंग उत्पाद मार्केटिंग और निर्माण की जिम्मेदारियों को पार्टियों में फैलाकर काम करता है, यह लाभ के हिस्से के साथ योगदानकर्ताओं को प्रदान करते हुए अधिक प्रभावी मार्केटिंग रणनीति के लिए विभिन्न व्यक्तियों की क्षमताओं का लाभ उठाता है। यह काम करने के लिए, तीन अलग-अलग दलों को शामिल होना चाहिए

विक्रेता और उत्पाद निर्माता।

एफिलिएट या विज्ञापनदाता।

उपभोक्ता।

आइए एफिलिएट मार्केटिंग की सफलता सुनिश्चित करने के लिए इन तीनों पक्षों द्वारा साझा किए गए जटिल संबंधों में को पुरे विस्तार जानकारी पढ़ते हैं

विक्रेता और उत्पाद निर्माता।

विक्रेता, चाहे वह एकल उद्यमी हो या बड़ा उद्यम, एक विक्रेता, व्यापारी, उत्पाद निर्माता या खुदरा विक्रेता होता है, जिसका उत्पाद बाजार में होता है। उत्पाद एक भौतिक वस्तु हो सकता है, जैसे घरेलू सामान, या कोई सेवा, जैसे मेकअप ट्यूटोरियल।

ब्रांड के रूप में भी जाना जाता है, विक्रेता को मार्केटिंग में सक्रिय रूप से शामिल होने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन वे विज्ञापनदाता भी हो सकते हैं और एफिलिएट मार्केटिंग से जुड़े revenue से लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

उदाहरण के लिए, विक्रेता एक ईकॉमर्स व्यापारी हो सकता है जिसने ड्रॉपशीपिंग व्यवसाय शुरू किया और अपने उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए संबद्ध साइटों को भुगतान करके नए दर्शकों तक पहुंचना चाहता है। या विक्रेता एक ABC नाम की कंपनी हो सकती है जो अपने मार्केटिंग सॉफ़्टवेयर को बेचने में मदद करने के लिए सहयोगी कंपनियों का लाभ उठाती है।

What is digital marketing in hindi

एफिलिएट या प्रकाशक।

एक प्रकाशक के रूप में भी जाना जाता है, एफिलिएट या तो एक व्यक्ति या एक कंपनी हो सकती है जो संभावित उपभोक्ताओं के लिए एक आकर्षक तरीके से विक्रेता के उत्पाद का मार्केटिंग करती है। दूसरे शब्दों में, एफिलिएट उपभोक्ताओं को यह समझाने के लिए उत्पाद को बढ़ावा देता है कि यह उनके लिए मूल्यवान या फायदेमंद है और उन्हें उत्पाद खरीदने के लिए राजी करता है। यदि उपभोक्ता उत्पाद को खरीदता है, तो एफिलिएट revenue का एक हिस्सा प्राप्त होता है।

एफिलिएट के पास अक्सर एक बहुत ही विशिष्ट दर्शक होते हैं जिनके लिए वे मार्केटिंग करते हैं, आम तौर पर उस दर्शकों के हितों का पालन करते हैं। यह एक परिभाषित आला या व्यक्तिगत ब्रांड बनाता है जो एफिलिएटर को उन उपभोक्ताओं को आकर्षित करने में मदद करता है जिनके प्रचार पर कार्रवाई करने की सबसे अधिक संभावना होगी

उपभोक्ता।

एफिलिएट मार्केटिंग के काम करने के लिए, बिक्री की आवश्यकता होती है और उपभोक्ता या ग्राहक वह होता है जो उन्हें करता है। एफिलिएट उपभोक्ताओं को उत्पाद/सेवा का मार्केटिंग आवश्यक चैनल (चैनलों) के माध्यम से करेगा, चाहे वह सोशल मीडिया हो, ब्लॉग हो या यूट्यूब वीडियो हो, और यदि उपभोक्ता उत्पाद को मूल्यवान या उनके लिए फायदेमंद मानता है, तो वे इसका अनुसरण कर सकते हैं व्यापारी की वेबसाइट पर एफिलिएट लिंक और चेकआउट करते हैं। यदि ग्राहक उस लिंक से कोई वस्तु खरीदता है, तो एफिलिएट revenue का एक हिस्सा उसे प्राप्त होता है।

हालाँकि, ध्यान रखें कि ग्राहक को इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि आप, सहयोगी, उत्पाद से कमीशन प्राप्त कर रहे हैं।

server kya hota hai | सर्वर के प्रकार व विशेषता @ 2022

Firewall क्या है ? Firewall in Hindi

What is affiliate marketing in hindi उन से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण परिभाषाएं

1 Affiliates कौन होता है ?

Affiliates वह लोग होते है जो लोग किसी भी Affiliate Program से जुड़ने के बाद उनके प्रोडक्ट को Sale करते है। यह Sales सोशल मीडिया, वेबसाइट या किसी पर्सनल ब्लॉग किसी प्रोडक्ट को प्रोमोट करते हैं । what is affiliate marketing in hindi

2 Affiliate Marketplace क्या है?

Affiliate Marketplace के अंतर्गत ऐसी सभी कंपनियां आती है, जो अपने प्रोडक्ट पर एफिलिएट कमिशन देती है। उसे ही Affiliate Marketplace कहते हैं

3 Affiliate ID क्या है?

Affiliate ID वह आईडी होती है, जो की एक एफिलिएट प्रोग्राम के द्वारा आपको प्रदान की जाती है। यह प्रत्येक अकाउंट के लिए अलग होती है। जो की किसी एफिलिएट की सभी Sales की जानकारियों को ट्रैक करती है।

4 Affiliate Link क्या होता है?

Affiliate Link आपको एफ्लीएट प्रोग्राम द्वारा प्रदान किये जाते है। इन लिंक को आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के अंदर उपयोग करते है। इन लिंक पर क्लिक करते विज़िटर उस प्रोडक्ट के ऊपर पहुँचता है। अगर वह आपके लिंक से कोई भी प्रोडक्ट खरीदता है, तो उसका कमिशन आपको मिलता है। इस लिंक के अंदर आपकी एफ्लीएट आईडी होती है। जिसके द्वारा आप अपनी सेल्स को ट्रैक कर पाते है।

5. Commission

Commission प्रोडक्ट का वह मूल्य होता है, जो Sales के अनुसार एक Affliates को दिया जाता है। यह मूल्य या Amount कुछ प्रोडक्ट पर फिक्स होता है, और कुछ प्रोडक्ट पर सेल्स का कुछ प्रतिशत तक भी होता है।

6. Link Clocking

Link Clocking का उपयोग प्रोडक्ट के लिंक को छोटा या Short करना होता है। जब हम किसी भी प्रोडक्ट का लिंक बनाते है, तो वह बहुत बड़ा होता है। उस लिंक को किसी भी URL Shortners की मदद से छोटा करके किसी ब्लॉग पर लगाना ही Link Clocking कहलाता है।

7. Affiliate Manager कौन होता है

Affiliate Manager वह लोग होते है, जो प्रत्येक एफिलिएट प्रोग्राम के द्वारा चयनित किये जाते है। और वह समय समय पर Affiliates की मदद करते है। उन्हें नए प्रोडक्ट की जानकारी और कई सुझाव देते है।

8. Payment Mode

भुगतान करने के प्रकार या Payment Mode का मतलब होता है। की आप को प्रत्येक एफिलिएट प्रोग्राम भुगतान करने के लिए कई तरीके प्रदान करता है। जिसमे आपको PayPal, Skrill, Wire Transfer या Cheque जैसी कई प्रकार हो सकते है। यह आपके ऊपर निर्भर करता है, की आप अपना भुगतान किस प्रकार लेना चाहते है।

9 eCommerce Company

एक ऐसी Company या organization जो अपनी Services या Product को online बेचती है। उसे e-Commerce कहते है। ज्यादातर ई-कॉमर्स संस्थाए ही अपने प्रोडक्ट और सेवावों को बेचने के लिए एफिलिएट प्रोग्राम चलती है।

Affiliate Marketer क्यों बनें?

हमने इस सवाल का जवाब पहले ही दे दिया है की आज की हाइपर-डिजिटलीकृत दुनिया में अपनी ऑनलाइन गतिविधि से एक निष्क्रिय आय ( passive income ) स्ट्रीम शुरू करने की इच्छा रखते हैं तो उसके लिए Affiliate Marketer बनना एक अच्छा करियर हो सकता हैं

Passive income

पैसिव इनकम (Passive income ) पैसे कमाने का एक बेहतर तरीका है, जिसमें आपको एक बार मेहनत करनी होती है उसके बाद आप बिना कुछ किये उस काम से लम्बे समय तक पैसे कमा सकते है। Passive income स्रोत आप जितनी चाहे उतनी बना सकते है।

ऐसा कहा जाता है कि सोते-सोते पैसे कमाने को ही पैसिव इनकम कहा जाता है अगर आप सोते सोते पैसा नहीं कमा पाते हैं तो आपको पूरी जिंदगी पैसों के लिए ही काम करना पड़ता है चाहे वो नौकरी हो या बिजनेस हो।

No customer support

एफिलिएट मार्केटिंग आपको कभी भी ग्राहक सहायता या ग्राहक संतुष्टि के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं होगी। Affiliate Marketer का पूरा काम विक्रेता को उपभोक्ता से जोड़ना होता है। आपके द्वारा बिक्री से कमीशन प्राप्त करने के बाद विक्रेता किसी भी उपभोक्ता शिकायतों से निपटान की समस्या नहीं होती ये कार्य  जिस कम्पनी का प्रोडक्ट होता है उसका होता है।

Work from home.

यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं जो कार्यालय जाने से नफरत करते हैं, तो Affiliate Marketing इसका सही समाधान है। आप अपने घर रहकर आराम से काम करते हुए विक्रेताओं द्वारा बनाए गए उत्पादों से अभियान शुरू करने और revenue प्राप्त करने में सक्षम होंगे। यह एक ऐसा काम है जिसे आप कभी भी रहकर काम कर सकते हैं

What is the dark web in hindi

इंटरनेट क्या है, (Internet Kya hai?)

Blog Website और Social Media पर Traffic बढ़ाएं।

Affiliate Product का Review के बाद, महत्वपूर्ण काम आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक बढ़ाना है। क्योंकि बिना ट्रैफिक के एफिलिएट मार्केटिंग करने से हमें कोई फायदा नहीं होने वाला है।

जितना अधिक Traffic हमारे Blog पर होगा, उतना ही हमारे Product की बिक्री होगी और जब बिक्री होगी, तो हमें Affiliate Income भी अच्छी होगी।

How Does Affiliate Marketer Get Paid in Hindi- एफिलिएट मार्केटर को पेमेंट कैसे मिलता है ?

Affiliate marketing उन लोगों के लिए बहुत ही किफायती विज्ञापन है जो ( Online ) ऑनलाइन अपनी आय बढ़ाना चाहते है. Affiliate marketing के जरिये विज्ञापन करने वालों को उत्पाद निर्माता तीन महत्वपूर्ण सेवा प्रदान कराता.जिसमे ऑटोमेटिक उसका कमीशन उसके पास पहुंच जाता है. जिसमें मुख्य तीन कार्यक्रम ( Program ) का इस्तेमाल किया जाता जिसके तहत Affiliate marketer को Seller से भुगतान किया जाता है.

1. Pay Per Sale

Pay Per Sale एक बहुत ही स्टैंडर्ड एफिलिएट मार्केटिंग का ढांचा है. इस कार्यक्रम में उपभोक्ता द्वारा उत्पाद ख़रीदने  के बाद उद्पाद के बिक्री मूल्य का कुछ प्रदतिशद हिस्सा Merchant (विक्रेता) अपनी स्ट्रैटेजी के अनुसार Affiliate ( विज्ञापन करता ) को  भुकतान करता है।

अगर इसको ही आसान भाषा में कहा जाये तो पहले विज्ञापन कर्त्ता ( Publisher Or Affiliate ) को  उस उत्पाद को ग्राहक ( Consumer ) को बेचना पड़ता है तभी विक्रेता ( Merchan or  Seller ) उनको भुकतान करता है कुछ प्रतिशत में।

2. Pay per Click

Pay Per Click कार्यक्रम विज्ञापन कर्ता को उपभोक्ताओं (Consumer) को उनके विज्ञापन ( Marketing ) की सेवा से ( Merchant or Seller ) विक्रेता की वेबसाइट पर ले जाने के लिए प्रोत्साहित करने पर केंद्रित है। इस कार्यक्रम तहत Affiliate को पैसे का भुगतान उनके लाये गए ग्राहक के संख्या ( Web  Traffic )  के ऊपर आधारित होता है।

3. Pay Per Lead

Pay Per Lead एक बहुत ही जटिल प्रकार का कार्यक्रम होता है जिसमे प्रति लीड भुगतान जब affiliate उस lead को रूपांतरण करने में सफल हो जाता है। इस कार्यक्रम ( Program ) में सहयोगी को उपभोगता को व्यपारी के वेबसाइट में जे जाना पड़ता है वंचित करवायी पूरी करने के लिए  राजी करना पड़ता है।

एफिलिएट प्लेटफ़ॉर्म की जरुरत क्यों पड़ी?

लोगों के मन में यह सवाल भी आता है कि क्यों एफिलिएट प्लेटफॉर्म की जरुरत पड़ी? क्या Affiliate सीधे कंपनी से Contact करके Affiliate Marketing नहीं कर सकते हैं? चलिए इसका जवाब भी जानते हैं।

पहले जब एफिलिएट प्लेटफॉर्म नहीं हुआ करते थे तो कई Vendor एफिलिएट के साथ Fraud कर देते थे, यानि एफिलिएट प्रोडक्ट को बिकवा देते थे लेकिन Vendor उन्हें Payment नहीं करते थे।

what is affiliate marketing in hindi इसके अलावा भी अनेक सारी समस्यायें थी, जैसे कि वेंडर का सही एफिलिएट के पास ना पहुँच पाना, वेंडर का एफिलिएट को सही डेटा ना दिखाना आदि. इन सारी समस्याओं से निपटने के लिए  एफिलिएट प्लेटफॉर्म की जरुरत पड़ी।

Super computer in hindi | सुपरकंप्यूटर क्या है?

Quick Support YouTube channel

एफिलिएट प्लेटफ़ॉर्म के फायदे

एफिलिएट प्लेटफॉर्म के आने से निम्नलिखित फायदे हुए, इसके फायदे एफिलिएट के साथ – साथ वेंडर को भी मिलें।

  • एफिलिएट प्लेटफॉर्म Vendor और Affiliate को एक साथ जोड़ता है।
  • Vendor को अपने प्रोडक्ट के लिए Best Affiliate मिलते हैं।
  • Vendor और Affiliate के बीच पारदर्शिता बनती है।
  • Affiliate निडरता के साथ प्रोडक्ट को बेच कर पैसे कमाता है।
  • Affiliate अपने डैशबोर्ड में Vendor और उसके प्रोडक्ट की History Check कर सकता है। मतलब प्रोडक्ट बिक रहा है या नहीं, कितने लोग प्रोडक्ट को प्रमोट कर रहे हैं आदि।
  • Affiliate के पास चुनने के लिए अधिक प्रोडक्ट होते हैं।

7 Best Affiliate Marketing Program Website

  1. Amazon Affiliate Marketing
  2. Flipkart Seller Registration
  3. eBay Affiliate Program
  4. Snapdeal Affiliate Program
  5. Myntra Affiliate Program
  6. ClickBank Affiliate Program
  7. Commission Junction

 Best 8 Hosting Affiliate Websites

  1. BlueHost Affiliate Program (Read: BlueHost Review)
  2. A2Hosting Affiliate Program
  3. Cloudways Affiliate Program
  4. Hostgator Affiliate Program
  5. SiteGound Affiliate Program
  6. Hostwinds Affiliate Program
  7. Namecheap Affiliate Program
  8. WPEngine Affiliate Program

Best Free Affiliate Marketing Course In Hindi एफिलिएट मार्केटिंग कोर्स

Affiliate Monster Free Affiliate Marketing Course

Udemy का नाम तो आप लोगो ने सुना ही होगा अगर नहीं सुना है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे की Udemy एक Paid Course Platform है जिसकी मदद से आप अपनी स्किल्स को Develop कर सकते है यह एक ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म है जहां से आप बिल्कुल मुफ्त में सैंकड़ों कोर्स कर सकते हैं।

wstube tech एफिलिएट मार्केटिंग कोर्स

wstube tech एक यूटूब चैनल है जहाँ से आप देर सारे कोर्स को बिल्कुल मुफ्त में कर सकते हैं आपको पूरा वीडियो हिंदी में मिलेगा इस वीडियो कोर्स की अच्छी बात है कि इसमें आप practically सारी चीजे देखने और सीखते है। यह वीडियो कोर्स कुल मिलाकर का है जिसमे आप पर विस्तार से जानकारी दी जायेगी

Affiliate Marketing Course By Umer Qureshi

दोस्तों उमेर कुरैशी एक भारतीय एफिलिएट मार्केटर है जिनकी उम्र बहुत ही कम है लगभग 16 से 18 साल के बीच है और वे एफिलिएट मार्केटिंग से अच्छा खासा पैसा कमा रहे है इसीलिए उन्होंने एक कोर्स भी बनाया है जहाँ वो फ्री में एफिलिएट मार्केटिंग सिखाते है।

Coursesity

Coursesity की मदद से भी आप Affiliate Marketing Course को बिल्कुल मुफ्त में कर सकते हैं। लेकिन, यह कोर्स बिल्कुल भी हिंदी में नहीं है इसलिए आपको अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए। इस कोर्स के लिए अभी तक कुल 6.3K students में enrollment किया है तो वही इसे 4/5 की स्टार रेटिंग मिली है।

Advantage of Affiliate Marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग के फायदे )

  • एफिलिएट मार्केटिंग को आप घर से ही कर सकते हैं. बस आपके पास एक लैपटॉप और इन्टरनेट कनेक्शन होना चाहिए।
  • आप घर बैठे पैसे कमा सकते हैं और 9 से 5 की नौकरी को छोड़ सकते हैं।
  • एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने के लिए आपको अधिक निवेश की जरुरत नहीं होती है।
  • एफिलिएट मार्केटिंग से 24/7 अनलिमिटेड पैसे कमा सकते हैं।
  • आप बिना खुद के प्रोडक्ट के भी ऑनलाइन बिज़नस कर सकते हैं
  • आपको प्रोडक्ट का सपोर्ट देने की कोई जरुरत नहीं होती है, एफिलिएट को केवल प्रोडक्ट बिकवाना होता है और बाकी का काम Vendor का होता है।

एफिलिएट मार्केटिंग को शुरू करना कोई मुश्किल काम नहीं है।

Disadvantage of Affiliate Marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग के नुकसान )

एफिलिएट मार्केटिंग के फायदों के साथ – साथ कुछ नुकसान भी हैं जैसे कि –

  • अगर आप Paid Method से एफिलिएट मार्केटिंग करते हैं तो इस बात की संभावना भी होती है कि आपको एक भी Sale ना आये और आपके पैसे बेकार चले जायें।
  • आपको Vendor की गाइडलाइन का पालन करके ही प्रोडक्ट बेचना पड़ता है, अगर आप उनके नियमों का उलंघन करते हैं तो वे आपको अपने प्रोग्राम को हटा सकते हैं।
  • आप अपनी तरफ से प्रोडक्ट को कुछ भी डिस्काउंट नहीं दे सकते हैं
  • शुरुवात में आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी।

एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए ? ( How to make money from affiliate marketing in Hindi ) 

एफिलिएट मार्केटिंग के साथ पैसा बनाने के लिए, आपको एक ऐसे उत्पाद की पहचान करने की आवश्यकता होगी, जिसका एक संभावित बाजार में एक आला या श्रेणी है जिससे आप परिचित हैं या  उसके बारे आप ज्यादा जानते हैं या इसके बारे में जानने के इच्छुक हैं। फिर आपको व्यापारी के उत्पाद पृष्ठ या स्टोर पर ट्रैफिक लाने के लिए, वेबसाइट, ब्लॉग, वीडियो, ईमेल या ऑनलाइन विज्ञापनों के माध्यम से इसका प्रचार करने की आवश्यकता है।

बस इतना ही, संक्षेप में वास्तव में इसे सफलतापूर्वक करना और इससे पैसा कमाना पार्ट साइंस, पार्ट आर्ट और ढेर सारा दृढ़ संकल्प और दृढ़ता है। लेकिन सबसे पहले आपको एक वेबसाइट चाहिए।

एफिलिएट मार्केटिंग वेबसाइट कैसे शुरू करें? ( how to start affilate marketing in hindi ) 

एफिलिएट मार्केटिंग के साथ शुरुआत करने के लिए किसी महगी वेबसाइट की जरूरत नहीं है जब तक यह आकर्षक और पेशेवर दिखता है, नेविगेट करना आसान है और इसमें दिलचस्प सामग्री और आकर्षक बिक्री प्रति है, जो रूपांतरणों को प्रोत्साहित करने के लिए पर्याप्त से अधिक है। बेशक, आपको एक डोमेन खरीदने और एक बुनियादी वेबसाइट लेआउट बनाने की आवश्यकता होगी, लेकिन वर्डप्रेस, विक्स और वीली जैसे वेबसाइट निर्माण और होस्टिंग प्लेटफॉर्म के साथ यह आसान है।

बिना वेबसाइट के एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करें

हालांकि एफिलिएट मार्केटिंग  ज्यादातर अपनी वेबसाइटों या लैंडिंग पृष्ठों (और कभी-कभी एक से अधिक) का उपयोग करते हैं, आप बिना वेबसाइट के एफिलिएट मार्केटिंग शुरू कर सकते हैं। ऑनलाइन उपस्थिति और लीड उत्पन्न करने के लिए आपको अपनी वेबसाइट चलाने की आवश्यकता नहीं है। बिना वेबसाइट के Affiliate Marketing करने के तीन वैकल्पिक तरीके यहां दिए गए हैं।

सोशल मीडिया और सामुदायिक फोरम यदि सोशल मीडिया पर आपके बहुत बड़े follower है या ऑनलाइन समुदायों और फ़ोरम में एक प्रभावशाली व्यक्ति है, तो आप उन उत्पादों के लिए एफिलिएट समीक्षाएं और लिंक पोस्ट कर सकते हैं जिन पर आप भरोसा करते हैं और अनुशंसा करते हैं।

ईमेल मार्केटिंग यदि आप एक ईमेल वितरण सूची के स्वामी हैं, तो आप ईमेल के माध्यम से संबद्ध प्रस्तावों को संप्रेषित कर सकते हैं। ईमेल सहयोगियों के लिए एक शक्तिशाली प्रदर्शन विपणन उपकरण हो सकता है।

Youtube वीडियो सबसे प्रभावी मार्केटिंग टूल में से एक है, और कई संबद्ध विपणक उत्पादों को बढ़ावा देने और रूपांतरण बढ़ाने के लिए वीडियो मार्केटिंग का उपयोग करते हैं। यदि आप एक वीडियो निर्माण विशेषज्ञ हैं, तो हो सकता है कि आप एक नियमित वेबसाइट बनाने के बजाय एक सक्रिय Youtube चैनल बनाना चाहें। what is affiliate marketing in hindi

Conclusion

What is affiliate marketing in hindi तो हमने इस आर्टिकल की मदद से जाना कि एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? एफिलिएट मार्केटिंग कोर्स कैसे करें?, एफिलिएट मार्केटिंग वेबसाइट कैसे शुरू करें? ( how to start affilate marketing in hindi ) एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए ? ( How to make money from affiliate marketing in Hindi ) और एफिलिएट मार्केटिंग वेबसाइट कैसे शुरू करें? ( how to start affilate marketing in hindi ) आदि के बारे आपको जानकारी मिली ।

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी What is affiliate marketing in hindi के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी What is affiliate marketing in hindi से जुड़ी कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। हम आपके सभी सवालों का जवाब देने का पूरा प्रयास करेंगे।

what is affiliate marketing in hindi से जुड़े कुछ जरूरी प्रश्न FAQs

एफिलिएट मार्केटिंग से कितना पैसा कमाया जा सकता है?

इस सवाल का कोई सीधा जवाब नही हो सकता। हाँ ऐसे बहुत से लोग हैं जो महीने के लाखों रूपये इस व्यवसाय से कमा रहे हैं। लेकिन यह आपके द्वारा किये गये सेल और कमीशन की दर पर निर्भर करता है

क्या एफिलिएट मार्केटिंग के लिए वेबसाइट होना जरुरी है?

नहीं, आप बिना वेबसाइट के भी इस काम को कर सकते हैं, आप सोशल मीडिया का उपयोग कर सकते है। लेकिन इस बिजनेस में काम करने वाले ज्यादातर professional लोग वेबसाइट या ब्लॉग बनाकर प्रोडक्ट को प्रमोट करना पसंद करते हैं। क्योंकि इससे आपका अपने कंटेंट पर ज्यादा कण्ट्रोल रहता है।

एफिलिएट प्रोडक्ट को हम कहाँ-कहाँ प्रमोट कर सकते हैं?

आप कई तरह से प्रोडक्ट का प्रचार कर सकते है जेसे वेबसाइट, ब्लॉग, लैंडिंग पेज, YouTube, Instagram, Whatsapp Quora, फेसबुक आदि का उपयोग कर सकते हैं।

क्या Adsense और Affiliate दोनों को एक साथ Use कर सकते है ?

हा गूगल ऐडसेंस तथा एफिलिएट मार्केटिंग आप दोनों एक ही पर एक साथ उपयोग कर सकते है। बस आपके इस द्वारा बात का ध्यान रखे की Google Adsense की कोई भी पालिसी का उलंघन न करें यदि आप ऐसा करते है तो हो सकता है आपके Google Adsense अकॉउंट पर खतरा बन सकता है।

क्या एफिलिएट मार्केटिंग करने में पैसे लगते हैं?

आप Affiliate Marketing को फ्री में भी कर सकते हैं, लेकिन अगर आप कम समय में अच्छे Result लाना चाहते हैं तो वर्डप्रेस पर ब्लॉग या लैंडिंग पैड बनाकर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं. इसके लिए आपको एक होस्टिंग खरीदने की जरूरत होगी.

एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने की कोई फीस होती है?

जी नहीं, आप बिल्कुल फ्री में एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते हैं. अगर कोई एफिलिएट प्रोग्राम आपको ज्वाइन करवाने के लिए पैसे लेता है तो आप ऐसे प्रोग्राम को ज्वाइन करने से बचे, क्योंकि आपके साथ Fraud हो सकता है.

Related Information

Advantages of cyber world in hindi

What E waste क्या है?

इण्टरनेट की अगली पीढ़ी 5G (जेनरेशन)

What is a digital media (डिजिटल म

Sharing The Post:

नमस्कार दोस्तों, मैं अमजद अली, Achiverce Information का Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैंने Graduate B.A Program Delhi University से किया हूँ और तकनीकी शिक्षा की बात करे तो मैने Information Technology (I.T) Web development का भी ज्ञान लिया है मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. इसलिए मैने इस Blog को दुसरो को तकनीक और शिक्षा से जुड़े जानकारी देने के लिए बनाया है मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे

Leave a Comment